Couplets | Abul Kalam Azad's image
1 min read

Couplets | Abul Kalam Azad

ABUL KALAM AZADABUL KALAM AZAD
1 Bookmarks 357 Reads4 Likes
बे-ख़ुद भी हैं होशियार भी हैं देखने वाले
इन मस्त निगाहों की अदा और ही कुछ है

कोई नालाँ कोई गिर्यां कोई बिस्मिल हो गया
उस के उठते ही दिगर-गूँ रंग-ए-महफ़िल हो गया

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts