देव भूमि उत्तराखंड....'s image
Poetry1 min read

देव भूमि उत्तराखंड....

vijay ranavijay rana January 17, 2022
Share1 Bookmarks 140 Reads1 Likes

ये मेरा गढ़वाल है प्यारा,

ये मेरा प्यारा कुमाऊं

जी नहीं भरता देख इसे,

मैं देख देख इतराऊं


कल कल करती नदियां,

झर झर झरते झरने

वन वन डोले पंछी सारे,

मैं देख देख इठलाऊं


गांव गांव और शहर शहर,

 मंदिर और शिवाले

देव भूमि ये मिट्टी मेरी 

माथे पे अपने सजाऊं


दिलों में इतना प्यार लिए

सांसों में ठंडी बयार लिए

एक भी पल जो जीयूं यहां

हज़ार पलों से बेहतर पाऊं


…..Wandering Gypsy_rns

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts