और हौसले से कसें युवा अब अपनी तूणीर's image
Kumar VishwasPoetry1 min read

और हौसले से कसें युवा अब अपनी तूणीर

Umesh ShuklaUmesh Shukla December 10, 2021
Share0 Bookmarks 41 Reads2 Likes

देश की रक्षा के लिए जो जुटे

रहे पूरी निष्ठा से आठों याम

नियति ने उनके जीवन सफर

को हाय कैसे दे दिया विराम

उनके अकस्मात निधन से पूरा

देश हो गया है अब गमगीन

जिनकी सिंह गर्जना से कांपा

करते थे पाकिस्तान और चीन

जाबांज मुखिया का नेतृत्व पा

ऊर्जित रहे देश के सभी जवान

उन्हें सदा ही याद रखेगा कृतज्ञ

दिल से यह समूचा हिंदुस्तान

हे जगदीश्वर अब आप ही दीजै

पूरे देश के दुखिया मन को धीर

देश सुरक्षा के लिए और हौसले

से कसें युवा अब अपनी तूणीर


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts