पनाह's image
Share0 Bookmarks 66 Reads1 Likes

अधूरे इश्क को मेरे उसकी पनाह मिल जाए,

मिल तो ना सके उससे कम-से-कम उसके लिए मर ही जाए,

दो आंसू वो बहाए जब मेरी लिए,

कम-से-कम इक पल के लिए ही दुखी हो जाये वो मेरे लिए

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts