बाईक's image
Share1 Bookmarks 89 Reads3 Likes

चलती है ये मस्ती में,

सीखना इसे अनिवार्य है,

तेजी से तो चला सकते हो,

संभालना महत्वपूर्ण कार्य है,

दो पहिए इसके ,

जैसे पती पत्नी जीवन में,

आनंदमय लम्हे इस पर,

गर्मी, ठंडी, और सावन में,

हाइवे पर हो हेलमेट पहना,

तो सुरक्षित रहे "जीवन" गहना,

गति रहे मद्धम मानलो ये कहना,

ट्रैफिक में भी ये ना अटके,

गंतव्यस्थान तक पोहोचा दे झट से,

जब देखता हूं स्वच्छ सुंदर गाड़ी,

याद आती पापा की बात,

"लोक ठेवतात गाड़ीला हृदयाच्या आत" !

 

         - समीर

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts