यादों में बसता है ,, आसुओं में बहता है …'s image
Love PoetryPoetry1 min read

यादों में बसता है ,, आसुओं में बहता है …

SajidaKJSajidaKJ February 12, 2022
Share0 Bookmarks 42 Reads1 Likes

यादों में बसता है ,, आसुओं में बहता है …


अजीब शक़्स है ,, ख़यालों से ना जाता है …


#साजिदा

@HindiPoemz 

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts