माँ तू कहाँ गई। ' हैरान ''s image
Love PoetryPoetry1 min read

माँ तू कहाँ गई। ' हैरान '

Rajeev Kumar SainiRajeev Kumar Saini July 21, 2022
Share0 Bookmarks 33 Reads0 Likes

सद्गुण कुछ तेरे मुझमें,

अवगुण सब मेरे,

लोरी सी तेरी यादें,

माँ तू कहाँ गई।

 - राजीव ' हैरान '

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts