जीवन's image
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes
जीवित रहना भी एक जंग है,
गुलामगिरि के सामने खुद्दारी अपंग है ।
जीवन बसर कर भी सकते हैं,
जब जीने की तलब संग है ।।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts