आईने से यारी रख's image
MotivationalPoetry1 min read

आईने से यारी रख

Prashant SinghPrashant Singh December 13, 2021
Share0 Bookmarks 34 Reads0 Likes
कर दे ख़त्म दुश्मनी, दोस्ती की बारी रख।
झूठ-सच दिखला देगा, आईने से यारी रख।।

समझौतों से लड़ने की, परिपूर्ण तैयारी रख।
शिक़वे गिले मिटा देगा, आईने से यारी रख।।

रिश्ते पाक निभाने की, पूरी ज़िम्मेदारी रख।
जीवन सफल बना देगा, आईने से यारी रख।।

स्वयं को परखने की, अब तो समझदारी रख।
राह सत्य बतला देगा, आईने से यारी रख।।

© प्रशांत सिंह

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts