गाँव की लड़की ।'s image
Poetry1 min read

गाँव की लड़की ।

Pratima PandeyPratima Pandey May 10, 2022
Share0 Bookmarks 21 Reads0 Likes



पानी से डरती थी जो गाँव की लड़की , 

शहर आकर वही आग से खेलने लगी ।

~© प्रतिमा पांडेय

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts