#बचपन#'s image
Share0 Bookmarks 10 Reads0 Likes

गलियों में उछल-कूद, मचाते नहीं हैं अब,

मिट्टी के घरौंदे भी, बनाते नहीं हैं अब,





गुम हो गये घरों की, चहारदीवारी में बच्चे,

सारा मुहल्ला सर पे, उठाते नहीं हैं अब


~ बेशहरी

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts