मृगतृष्णा's image
Share0 Bookmarks 17 Reads0 Likes
मरूभूमि की मृगतृष्णा है
बूँद-बूँद से नहीं मिटेगी
इस प्यास का अंत नहीं है
तिल तिल कर प्राण हरेगी।

     मं शर्मा (रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts