व्याकुलता's image
Share0 Bookmarks 10 Reads0 Likes

बातों के शब्दजाल में

अर्थ अनर्थ न हो जाए

भावनाओं की अनुभूति

कहीं कलुषित न हो जाए


बेचैन ह्रदय की बेचैनी

धड़कनों का वेग बढ़ाती जाए

संवेदनाओं की मधुरता

कहीं व्याकुलता न बन जाए।



मं शर्मा (रज़ा)


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts