उम्मीद's image
Share0 Bookmarks 18 Reads0 Likes

हौसलों की धड़कन से

उम्मीद जगी है

निगाहों की तलाश को

मंज़िल दिखी है

पलक पाँवड़े बिछाए

जिंदगी खड़ी है।


मं शर्मा( रज़ा)

#स्वरचित

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts