लेखा's image
Share0 Bookmarks 7 Reads0 Likes

लिख दिया है उसने

तकदीरों का लेखा

कुछ इस तरह


समझ किसी के

ना आ सका

कुछ उस तरह ।


मं शर्मा (रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts