झोंका's image
Share0 Bookmarks 9 Reads0 Likes

झोंका कोई ठंडी हवा का

उसे छूकर गुज़रा होगा

फिर मेरी याद ने 

उसको भिगोया होगा ।



मं शर्मा (रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts