धड़कन's image
Share0 Bookmarks 7 Reads0 Likes

माँ का ममता से नाता

धरा का धैर्य से नाता

मंज़िल का रास्ते से नाता

फूल का खुशबू से नाता


चाँद बिना रात न होती

सूरज बिन दिवस न होता

अमिट अक्षुण नाते हैं सब

बिन धड़कन दिल नहीं होता।


मं शर्मा (रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts