चिंता's image
Share0 Bookmarks 14 Reads0 Likes

कर्म कर

निस्वार्थ कर

फल की

कामना न कर


संतोष कर

धीरज धर

मैं हूँ ना

चिंता न कर ।


मं शर्मा (रज़ा)

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts