मां को गुजरें हुआ आज एक साल's image
International Poetry DayArticle3 min read

मां को गुजरें हुआ आज एक साल

JAGJIT SINGHJAGJIT SINGH October 22, 2022
Share0 Bookmarks 35 Reads1 Likes

बड़े दिनों बाद आज कलम उठाने जा रहा हूं ।

मां को गुजरें हुआ आज एक साल हो गया इसलिए एक और पोस्ट अपनी मां के नाम करने जा रहा हूं ।


मां आज आपको गुज़रे हुआ है सिर्फ़ एक साल ।

क्या बताएं मां कैसा है आपके बिना हम सबका हाल ।


आज भी वो पिछले साल 22अक्टूबर का दिन याद आता है ।

आज भी वो दिन याद आते ही दिल पूरी तरह से डर जाता है।

लाख कोशिश करते है हम सब मां लेकिन आंखों से आंसू अपने आप आ जाता है ।


मां आपको तो रहती थी अपने बेटे सनी की फिक्र बड़ी ।

मां आपकी कमी अक्सर कई बार हमें बहुत पड़ी ।


मां तेरे जाने के बाद एक बात समझ में आई ।

बड़ी से बड़ी खुशी भी मां के जाने की कमी ना कभी भर पाई ।


पता है मां मुझे सबने एक दिन चले जाना ।

किसी ने आज तो किसी ने कल चले जाना ।


मां वो तेरा मुझे गले लगाना ।

हर मुश्किल वक्त में मां तूने मेरा पूरा साथ निभाना ।


एक वक्त था मां कोई शायर,कोई मुझे लेखक था कहता ।

अब पूछते है कई बार मेरे अपने सनी क्यों तू आज कल इतना चुप रहता ।


दिल की बात किसी से चाह के भी मां कही नहीं जाती ।

सच कहता हूं मां हम सबको आपकी याद हर रोज़ बड़ी आती ।


पापा आज भी अपने दोस्त (मां)आपको बहुत याद करते है। 

आपके साथ बिताया हुआ वो एक एक पल वाला किस्सा हम सबको रोज़ सुनाया करते है ।


लेकिन मां आपके जाने से पहले पता नहीं ऐसे लगता है जैसे आसमान में कोई तारा टूट गया ।

क्यों मां आपसे हम सबका इतनी जल्दी साथ छूट गया ।


आज हर कोई पूछता है सनी तू अब क्यों इतना चुप रहता है ।

अपने दिल की बात तू किसी को क्यों नहीं बताता है ।


मां कभी कभी ज़िन्दगी में ऐसा भी वक्त आता है ।

सबको हंसाने वाला भी एक दम से चुप हो जाता है ।


मतलब का है ये ज़माना इसे किसी का दर्द कहा समझ आता है ।

जब कोई अपना किसी से जुदा होता है तब लोगों को किसी दूसरे का दर्द समझ में आता है ।


मां कहती है मेरे बेटे सनी प्रभु और नीलू दीदी की कलम ही तुझे पहचान दिलायेगी ।

जब जब मेरे बेटे सनी तू कुछ भी लिखेगा तेरी मां को बहुत खुशी मिल जायेगी ।


कलम है ये प्रभु और नीलू दीदी की दी हुई ये तो चलती जायेगी ।

मां कहती है मेरे बेटे सनी तू हिम्मत से काम लेना ये कलम तुझसे अभी बहुत कुछ लिखवायेगी ✍️

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts