झूलन गोस्वामी (एक युग का अंत)'s image
International Poetry DayPoetry3 min read

झूलन गोस्वामी (एक युग का अंत)

JAGJIT SINGHJAGJIT SINGH September 25, 2022
Share0 Bookmarks 18 Reads1 Likes

वूमेन क्रिकेट टीम के लिये कल का आखरी मैच भावुक बड़ा था ।

क्योंकि भारतीय टीम की सबसे सीनियर प्लेयर झूलन गोस्वामी कल आखरी मैच था । 


बड़ा कमाल का झूलन गोस्वामी का क्रिकेट करियर रहा ।

इंग्लैंड टीम के खिलाफ़ झूलन गोस्वामी ने अपने कैरियर की शुरवात की थी और अपनी ज़िन्दगी का आखरी मैच भी इंग्लैंड के खिलाफ़ ही खेला ये एक इतेफाक रहा ।


अपनी ज़िन्दगी के 20साल झूलन गोस्वामी ने क्रिकेट को दिये ।

कई बड़े बड़े रिकॉर्ड झूलन गोस्वामी ने अपने नाम किये ।


इंग्लैंड की टीम ने टॉस जीत कर गेंदबाज़ी का फ़ैसला लिया ।

भारतीय टीम को एक के बाद एक झटका दिया ।


स्मृति मंधाना ने (50)और दीप्ति शर्मा ने नाबाद 68रनों की पारी खेल कर दिखाई ।

जब झूलन गोस्वामी मैदान में उतरी मैदान में मौजूद हर शक्श ने खड़े होकर इनके सम्मान में तालियां बजाईं ।


झूलन गोस्वामी जब माईक पर बोल रही थी तब वो देख और सुनके भारतीय टीम की कप्तान हरमनप्रीत की आंखों में आंसू आया ।

तब बड़े प्यार से झूलन गोस्वामी ने अपनी कप्तान को बड़े प्यार से गले लगाया ।


भारतीय टीम ने इंग्लैंड की टीम को 3_0से ये सीरीज हराई।

जीत के साथ और नम आंखों से हुई झूलन गोस्वामी की आखरी मैच में विदाई ।


भारतीय टीम ने पहले खेलते हुऐ 10विकेट खोकर 170रनों का लक्ष दिया ।

भारतीय टीम की गेंदबाज़ रेणुका सिंह ने अकेली ने ही इंग्लैंड के 4बल्लेबाज़ों को पवेलियन भेज दिया ।


एक समय पर इंग्लैंड की टीम ने 65रन पर अपने 7विकेटों को खो दिया था ।

फिर भी इंग्लैंड टीम ने एक समय पर 153रनों का स्कोर बना लिया था ।


लेकिन तभी भारतीय टीम की गेंदबाज़ दीप्ति शर्मा ने बड़े ही अनोखे ढंग से चार्लोट डीन को आउट किया ।

तब जाकर वूमेन क्रिकेट टीम ने इस मैच को जीत लिया ।


अपने आखरी मैच में झूलन गोस्वामी ने दो विकेट भी झटके ।

जीत के बिल्कुल क़रीब पहुंच जाने के बावजूद भी इंग्लैंड की टीम हार गई ये देखकर इंग्लैंड टीम के खिलाड़ियों के चेहरे रह गये लटके ।


आईसीसी के नये नियमों को कुछ लोग कह रहे है गलत तो कुछ कह रहे है सही ।

कलम प्रभु,नीलू दीदी की दी हुई है इसलिए है चल रही✍️

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts