Happy Birthday Sachin Tendulkar Sir's image
Share0 Bookmarks 33 Reads0 Likes

क्रिकेट की दुनियां में जब भी महान बल्लेबाज़ों की बात होगी ।

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर जी की बात जरूर होगी ।


आज ये अपना जन्मदिन मना रहे है ।

देखते है प्रभु,नीलू दीदी और मेरी मां मिलकर सचिन तेंदुलकर जी के बारे में क्या क्या लिखवा रहे है ।


छोटी उम्र से ही सचिन तेंदुलकर जी में बड़ा था दम ।

सचिन तेंदुलकर जी के जैसे इंसान के लिये जितना भी लिखा जाएं पड़ जायेगा कम ।


सीधे सादे है सचिन तेंदुलकर इंसान ।

लेकिन आज क्रिकेट की दुनियां में कई लोग मानते है इन्हें भगवान।


गेंदबाज कोई भी हो सचिन तेंदुलकर जी को कभी फ़र्क नहीं था पड़ता ।

बड़े से बड़ा गेंदबाज सचिन तेंदुलकर से था डरता ।


सचिन तेंदुलकर जी ने कई रिकॉर्ड थे बनाये ।

इसलिए तो सम्मान तो सचिन तेंदुलकर साहब को अपनी ज़िन्दगी में कई बड़े से बड़े मिल पाये ।


पहली बार वनडे मैच में 200रन सचिन तेंदुलकर जी ने ही बनाये थे।

अपने इंटरनेशनल कैरियर में सचिन तेंदुलकर साहब ने कुल 100शतक लगाये थे ।


सचिन तेंदुलकर जी के नाम आज भी इतने रिकॉर्ड है क्या कोई उसे तोड़ पायेगा ।

बहुत मुश्किल है ये कहना क्या कोई सचिन तेंदुलकर जी की तरह बन पायेगा। 


कई बार सचिन तेंदुलकर हुऐ गलत अंपायरिंग का शिकार ।

चुप चाप चल देते थे ड्रेसिंग रूम की तरफ़ गुस्सा नहीं किया सचिन तेंदुलकर ने कभी एक भी बार ।


अपने ज़माने में बल्लेबाज़ी के साथ साथ गेंदबाज़ी भी सचिन तेंदुलकर जी किया करते थे ।

बड़े से बड़े बल्लेबाज़ को अपनी घूमती हुई गेंदों से चकमा दिया करते थे ।


दुनियां के महान गेंदबाजों में से एक शेन वार्न भी कहा करते थे ।

के सचिन तेंदुलकर अक्सर मेरे सपनों में मुझे बल्लेबाज़ी करते हुऐ नज़र आते थे।


सचिन तेंदुलकर जी का वर्ल्ड कप जीतने का सपना साल 2011में पूरा हुआ था ।

क्योंकि सचिन तेंदुलकर जी का देखा हुआ ये सपना पूरे 28साल बाद पूरा हुआ था ।


साल 2013में सचिन तेंदुलकर ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया ।

ऐसा लगा उस वक्त जैसे क्रिकेट की दुनियां ने कोई चमकता हुआ सितारा बड़ी जल्दी खो दिया ।

सचिन तेंदुलकर साहब के मुंह से निकले वो एक एक बोल सचिन तेंदुलकर साहब के साथ क्रिकेट का हर दीवाना उस वक्त रो दिया ।


अपने माता पिता,अपने कोच का सचिन तेंदुलकर जी ने बहुत बहुत शुक्रिया अदा किया ।

अपनी बीवी अंजली से कहा मेरी ज़िन्दगी में मेरी पत्नी अंजलि ने भी मेरा बहुत साथ दिया ।


प्रभु ने मुझे बेटी सारा और बेटा अर्जुन दिया ।

जो जो मैंने ज़िन्दगी में चाहा वो सब मैंने हासिल किया ।


सचिन तेंदुलकर जी जैसा बल्लेबाज़ और इंसान कभी कभी ही इस धरती पर आते ।

सनी खुद कुछ नहीं लिखता है ये तो प्रभु,नीलू दीदी और मेरी मां मिलकर अपने बेटे सनी से लिखवाते✍️

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts