गांधी जयंती's image
Share0 Bookmarks 43 Reads0 Likes

गांधी जयंती आज है आई ।

लेकिन देश को आज़ादी दिलाने के लिये कई और भी देश भक्तों ने भी तो एहम भूमिका थी निभाई।


भगत सिंह राजगुरु और सुखदेव की आज कल के बच्चों को याद क्यों ना आई।

गांधी जी के ऊपर किसके कहने पर गोली चलाई।


भगत सिंह राजगुरु और सुखदेव को तो बड़ी छोटी उम्र में अंग्रेजों की सरकार ने उस वक्त फांसी की सज़ा सुनाई।

आज भी भगत सिंह जी को एक शहीद की उपलब्धि पूरी तरह से ना मिल पाई।


लेकिन गांधी जी की तस्वीर आज तक किसी भी सरकार ने देश के नोटों से नहीं हटाई।

गंदी राजनीति की वजह से हमारे देश की कभी पूरी तरह से तरकी हो ना पाई।


कुछ लोग कहते है गांधी जी ने देश के लिये बहुत कुछ किया था।

लेकिन वो लोग कैसे भूल गये बाकी देश भक्तों ने भी अपने देश को आज़ादी दिलाने के लिये दिन रात एक किया था ।


जब भी किसी देश भगत की जन्मदिन या पुण्यतिथि आती तब सिर्फ़ लोगों को उनकी याद आती।

उसके बाद तो उनकी बनाई हुई मूर्ति तक साफ़ ना की जाती।


कभी मिट्टी तो कई पंछियों ने हर शहीद की मूर्ति पर गंदगी मचा रखी है।

कहने को भगत सिंह जी राजगुरु और सुखदेव जी भी हमारे शहीद है क्या कभी सोचा है हमने और सरकार ने इनको इनकी प्रतिमा की हालात क्या कर रखी है।


आज कल के बच्चों को क्यों नहीं देश की आज़ादी के लिये जिस जिस ने भी अपना बलिदान दिया है उन सब के बारे में बताते ।

उन सबके गावों को बेहतर से बेहतर क्यों नहीं बनाते।

उन देश भक्तों के नाम पर कोई अच्छा स्कूल या हॉस्पिटल क्यों नहीं बनाते।


इंसान के हाथ में नोट आते ही गांधी जी तो सबको याद आ जाते।काश देश के किसी नोट पर भ्रष्ट नेता भगत सिंह जी की या किसी और देश भगत की भी फ़ोटो लगवाते।


प्रभु ,नीलू दीदी और मेरी मां का मैं कैसे ना शुक्रिया अदा करूं जो अपने बेटे सनी से हर रोज़ कुछ ना कुछ जरूर लिखवाते✍️।

(लेखक_जगजीत सिंह सनी)


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts