भोर's image
Share0 Bookmarks 12 Reads0 Likes

भोर कुछ देर हंस के लौट गई।

धूप कुछ देर तप के लौट गई ।

शाम ए ग़म तू ही साथ दे दे ज़रा,

हर ख़ुशी मुस्कुरा के लौट गई।


- इन्दु प्रकाश

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts