आसान रास्ता's image
Poetry1 min read

आसान रास्ता

Hina AgravalHina Agraval February 9, 2022
Share0 Bookmarks 96 Reads0 Likes

आनेवाली नसलों को, हम ये बताएँगे,

की हम लड़े थे,

धर्म के नाम पर,

क्योंकि हमारे पास लड़ने को और कुछ था नहीं,

हमने ख़ून के बदले ख़ून लिया,

और आँख के बदले आँख,

हम नहीं लड़ पातेभूख और ग़रीबी के ख़िलाफ़,

हम नहीं लड़ पातेअराजकता और अत्याचार के ख़िलाफ़,

हम नहीं दिला पातेऔरतों को बराबरी और इज्जत,

हम नहीं लड़ पातेबच्चों का बचपन बचाने के लिए,

हम नहीं लड़ पाते शिक्षा के लिए,

हम नहीं  लड़ पाते शांति के लिए,

हम नहीं लड़ पाते समानता के लिए,

ये सब तो बड़ा मुश्किल थाबहुत हिम्मत लगती इसमें,

तो हम लड़ लिए,

धर्म के नाम पर

क्योंकि आसान थाधर्म के नाम पर लड़ना,

और मानवता को शर्मसार करना,

तो हमने आसान रास्ता चुना,

और धर्म को बचा लिया,

इंसान को नहीं,

इंसानियत को नहीं..!!

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts