Qat'a's image

आसमाॅं में चमकता तारा हूॅं 

ये न समझो कि बेसहारा हूॅं 


हूॅं मुहब्बत मिज़ाज मैं लेकिन

सच कहूॅं दिल बहुत मैं हारा हूॅं 

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts