खुदा से माफी's image
Poetry1 min read

खुदा से माफी

Gulam Raza KhanGulam Raza Khan December 15, 2022
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes
कैसे हस्र में खुदा को अपना चेहरा दिखाऊंगा,
गुनाहों के चादर में दिन रात लिपटे रहता हूं।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts