तेरी बेरुखी अब मुझे बहुत मार जाती है
तू बे-वफा है मगर खौफ से याद आती हैं's image
Love PoetryPoetry1 min read

तेरी बेरुखी अब मुझे बहुत मार जाती है तू बे-वफा है मगर खौफ से याद आती हैं

Bhadresh DesaiBhadresh Desai November 30, 2021
Share0 Bookmarks 57 Reads0 Likes
तेरी बेरुखी अब मुझे बहुत मार जाती है
तू बे-वफा है मगर खौफ से याद आती हैं

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts