देखी बहौत राह शाम तक न निकलीं अस्थी मेरी
कह दिया मेरे यारों को गंगाजी लाना कस्ति मेरी

#गंगाजी #बनारस #वाराणसी's image
Love PoetryPoetry1 min read

देखी बहौत राह शाम तक न निकलीं अस्थी मेरी कह दिया मेरे यारों को गंगाजी लाना कस्ति मेरी #गंगाजी #बनारस #वाराणसी

Bhadresh DesaiBhadresh Desai November 9, 2021
Share0 Bookmarks 26 Reads0 Likes
Kavishala

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts