आंख-मिचौली's image
1 min read

आंख-मिचौली

BhaaWriteBhaaWrite June 16, 2020
Share0 Bookmarks 70 Reads0 Likes

कमरा छोड़ के जबसे बालकनी में वक़्त बिताना शुरू किया है, 

बारहवीं मंजिल से हमें देखकर किसीने मुस्कुराना शुरू किया है, 

अब अपने समय को हमने उनकी घडी से चलना सिखा दिया, 

नजरबंदी के इस माहौल में किसी से आंख-मिचौली का रिश्ता है हमने बना लियाl

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts