शायरी's image
Share0 Bookmarks 31 Reads2 Likes


जागी सारी रात जो माँ मेरे बचपन में,

जिसने मुझे जीवन में कभी रोने न दिया,

बीमार क्या हुई मुझे उससे शिकायत है,

उसने सारी रात मुझे सोने न दिया |


"बेचैन"

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts