शेर's image
Share0 Bookmarks 13 Reads0 Likes
आज जिसे ज़माना पढ़ता है,
वो शेर फ़क़त मेरा था कभी।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts