दिल और नींद's image
Share0 Bookmarks 9 Reads0 Likes
करवटें बदलते हुए ही रात गुजरती है,
दिल के आगे नींद की कहाँ चलती है।
~आज़ाद

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts