शायरी's image
जो गुज़रे जमीं से तो, कहें आसमां गुज़र गया,
जो इक पल गुज़रे तो, कहें सारा जहां गुज़र गया,
होगी ज़नाज़े में मेरे भीड़ कितनी, क्या ख़बर ?
गुज़रें जिसके भी बग़ल से, लोग कहें अच्छा इंसां था, जो गुज़र गया।

#क़लम✍

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts