अंकनी's image
Share0 Bookmarks 122 Reads5 Likes
मन के भावों को
शबदों का रूप दे अंकनी .....
तन्हा की महफ़िल
सजाने वाली अंकनी
जनाब ....
समझिये न इसे कमज़ोर
फलक पे बिठाने वाली
या फलक से गिराने वाली
दोनो ही अंकनी ....


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts