ए कवि's image
Share0 Bookmarks 50 Reads0 Likes
ए कलयुगी तू मत लिखा कर
कलम तो बस एक परिंदा है
शब्द सारे मर चुके हैं
बस आवाज जिंदा है ......

@kalyugi_writer




No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts