शीशा's image
Share0 Bookmarks 180 Reads4 Likes

समझते थे खुद को हीरा मगर हम शीशा भी न निकले

ना खुदका का बचा ठिकाना कोई ज़माने से भी फिसले

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts