दुःख दर्द का साथी दुनिया में, देखा कोई यार नहीं मिलता's image
1 min read

दुःख दर्द का साथी दुनिया में, देखा कोई यार नहीं मिलता

Shivadin Ram JoshiShivadin Ram Joshi
0 Bookmarks 120 Reads0 Likes

दुःख दर्द का साथी दुनिया में, देखा कोई यार नहीं मिलता |
हैं सुख के साथी बहुतेरे, उनसे कोई सार नहीं मिलता ||

सहना है दर्द अकेले ही, कहना है किसको जाकर के |
कुछ रहे यार मुसकाकर के, कुछ समय बितायें गाकर के |
शिवदीन जगत को देख लिया, कोई दिलदार नहीं मिलता ||

इसलिए शरण प्रभु की होना, सतसंग से पाप सकल धोना |
संतन के संग उमंग सदा, पर ये बाजार नहीं मिलाता ||

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts