शहर-अजीमाबाद's image
1 min read

शहर-अजीमाबाद

Rajkamal ChoudharyRajkamal Choudhary
0 Bookmarks 55 Reads0 Likes

गोलघर चावल का गोदाम था,
जिसमें मुँडेरे से शहर मीनिएचर जंगल
दिखता है। कॉफ़ी हाउस पत्रकारों केलिए सुरक्षित।
जातिवाद के ख़िलाफ़ ज़ोरदार भाषण।
कत्थक-नाच वाली लड़कियों से इन्ट्रोडक्शन।
सचिवालय से कूदकर रामनाथ या श्यामनाथ मर गया।
लैम्प-पोस्टों की पीली रोशनी संक्रामक है।
गर्भवती हो गयी हैं अस्पताल की सारी नर्सें।
किसी को भी नहीं स्मरण है अपना नाम।
कल आलमगंज मस्जिद में एक बम फूटा।
मन्त्री-उपमन्त्री चार बजे सुबह घूमने निकलते हैं।
अगम कूप से निकली है राधा-किशन की मूरत।
गाँधी मैदान में सोना मना है। गंगा-नदी बहती है।
गंगा नदी बहती है। और, सात नवयुवक विधान-भवन
के सामने अब तक ब्रोंज की चट्टान बने हुए खड़े हैं।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts