कौन रसिक है इन बातन कौ's image
1 min read

कौन रसिक है इन बातन कौ

ParamanandadasParamanandadas
0 Bookmarks 44 Reads0 Likes

कौन रसिक है इन बातन कौ।
नंद-नंदन बिन कासों कहिये, सुन री सखी मेरो दु:ख या मन कौ।
कहँ वह जमुना पुलिन मनोहर, कहँ वह चंद सरद रातिन कौ।
कहँ वह मँद सुगंध अमल रस, कहँ वह षटपद जलजातन कौ।
कहँ वह सेज पौढिबो बन को, फूल बिछौना मदु पातन कौ।
कहँ वह दरस परस 'परमानंद' कोमल तन कोमल गातन कौ॥

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts