एक दो दिन मे वो इकरार कहाँ आएगा,'s image
1 min read

एक दो दिन मे वो इकरार कहाँ आएगा,

Kumar VishwasKumar Vishwas
3 Bookmarks 3063 Reads26 Likes
एक दो दिन मे वो इकरार कहाँ आएगा, हर सुबह एक ही अखबार कहाँ आएगा , आज जो बांधा है इन में तो बहल जायेंगे, रोज इन बाहों का त्योहार कहाँ आएगा…!!

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts