लोग कहते हैं मोहब्बत में असर होता है's image
1 min read

लोग कहते हैं मोहब्बत में असर होता है

Ghulam HamdaniGhulam Hamdani
0 Bookmarks 501 Reads0 Likes

लोग कहते हैं मोहब्बत में असर होता है

कौन से शहर में होता है किधर होता है

उस के कूचे में है नित सूरत-ए-बेदाद नई

क़त्ल हर ख़स्ता बा-अंदाज़-ए-दिगर होता है

नहीं मालूम कि मातम है फ़लक पर किस का

रोज़ क्यूँ चाक गिरेबान-ए-सहर होता है

वूहीं अपनी भी है बारीक-तर-अज़-मू गर्दन

तेग़ के साथ यहाँ ज़िक्र-ए-कमर होता है

कर के मैं याद दिल अपने को बहुत रोता हूँ

जब किसी शख़्स का दुनिया से सफ़र होता है

उस की मिज़्गाँ का कोई नाम न लो क्या हासिल

मेरा इन बातों से सुराख़ जिगर होता है

'मुसहफ़ी' हम तो तिरे मिलने को आए कई बार

ऐ दिवाने तू किसी वक़्त भी घर होता है

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts