सतरंगी's image
1 min read

सतरंगी

Deendayal SharmaDeendayal Sharma
0 Bookmarks 50 Reads0 Likes


किसे नहीं अच्छा लगता फूल
सुन्दरता सबको भाती है
आदमी भले ही
फूल नहीं बन पाता
पर जब
वह मुस्कुराता है
खिलखिलाता है
तब होती है बौछार
भांति-भांति के फूलों से
महक उठता है वातावरण
बहने लगती है भीनी भीनी बयार
और आसमान में दिखने लगता है
सतरंगी इन्द्रधनुष।।।

 

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts