मेरा मेरा छोड़ गँवारा's image
1 min read

मेरा मेरा छोड़ गँवारा

Dadu DayalDadu Dayal
0 Bookmarks 53 Reads0 Likes

मेरा मेरा छोड़ गँवारा,
सिरपर तेरे सिरजनहारा।

अपने जीव बिचारत नाहीं,
क्या ले गइला बंस तुम्हारा॥टेक॥

तब मेरा कत करता नाहीं, आवत है हंकारा।
काल-चक्रसूँ खरी परी रे, बिसर गया घर-बारा॥१॥

जाइ तहाँका संयम कीजै, बिकट पंथ गिरधारा।
दादू रे तन अपना नाहीं, तौ कैसे भयो सँसारा॥२॥

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts