रहना तैयार's image
Share0 Bookmarks 0 Reads0 Likes

हकीकत से हो जब रूबरू
खुदी से जब हो न खफा
कर तू तब फैसले  ऐ दिल
क्या वफ़ा ? क्या बेवफा?

जूनून जब सर पे हो न चढ़ा
सुकून जब तक न मिला
होना तू न बेसबर  ऐ दिल
मत करना तू कोई सिला।

हो मजबूर या कोई गुरूर हो
चाहे किस्सा भी हो कोई सुना
चलना न तू उस डगर ऐ दिल
सफ़र हिफाज़त न हो सौ गुना।

कर उम्मीद खुद पे यकीन रख
कोशिश को अपना बना हथियार
जिसको तू न पा सका ऐ दिल वो
पायेगा तुझे , तू बस रहना तैयार।  
     
                 -विशाल "बेफिक्र"

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts