तू शिव बन \ tu shiv ban's image
2 min read

तू शिव बन \ tu shiv ban

Virender ld goutamVirender ld goutam June 16, 2020
Share0 Bookmarks 57 Reads1 Likes

हैं जो जरूरी वो कृत्य कर

गर है जरूरी तो उनके लिए रण कर

बड़ी अंजान है दुनिया खुदगर्जी के परिणाम स

तू उन खुदग्रजो के लिए

यज्ञ कर यज्ञ कर।।।।

तू परिणाम से मत डर

तू हो खड़ा तू कल की परवाह मत कर

ये आधी ये तूफ़ान कुछ पल का भी नही

बस इन पलो का होगा जो अंजाम उस अंजाम के लिए

डट कर सामना कर सामना कर।।।।

ये दुनिया अनन्त है ये आज कल की नही

इस दुनिया ने देखे है अनेक योद्धा यहाँ।

तू भी तो उनसे कम नही

तो तू हो मत भयभीत इन क्षणिक अवरोधों से

तू काल है क्षणिकता काल के आगे

कुछ नही कुछ नही।।।

यू तो मानवता है जगत का मूल आधार

पर यहा है मानवता मानवो से ही परेशान

ओर मानव भी इस बात से अंजान

तू राह बन

जो जाती हो मानवता की ओर मानवो के लिए वो

राह बन राह बन।।।।।

यहाँ अब मचा है हाहाकार

अब जो प्रकृति भी करे विनाश की पुकार

तुमने बहुत उगला है विस् यहां

अब वो भी तो इस विस् से रक्तरंजित लाल

तू इस विस् का नाश बन नाश बन

तू नीलकंठ महादेव शिव बन शिव बन

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts