जिंदगी कहकहे तो कभी दर्द सी's image
1 min read

जिंदगी कहकहे तो कभी दर्द सी

vijay ranavijay rana January 2, 2022
Share0 Bookmarks 193 Reads2 Likes
जिंदगी कभी कहकहे तो कभी दर्द सी 
चटक रंगों सी कभी तो कभी जर्द सी 

कभी खुद में सिमटती मासूम प्यार सी 
बिखर जाती है फिज़ा में कभी गर्द सी 

पल पल में बदलती  है अपने मिजाज़ 
कभी कोयले सी गर्म कभी सर्द बर्फ सी 

कभी लिपटती है मखमली अहसास सी 
कभी  बिफर उठती है किसी बेदर्द सी 

कभी झपटती है भूखे शेर की मानिंद 
कभी ठिठक जाती है किसी नामर्द सी 

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts