अबला तुम इतनी बलवान बनो...'s image
Poetry1 min read

अबला तुम इतनी बलवान बनो...

vijay ranavijay rana March 2, 2022
Share0 Bookmarks 127 Reads0 Likes

अब छाया बनकर न रहो तुम

अब खुद अपनी पहचान बनो

अबला अब कोई कह न सके

अब तुम इतनी बलवान बनो 

       

डगर भले मुश्किल हो मगर

तुम अपना अभिमान बनो 

सपने फैलाओ आसमां भर

तुम स्वयं में स्वाभिमान बनो 

                wandering_ gypsy_rns

घर की लाज रहो बेशक पर

घर का भी तुम सम्मान बनो

कुछ गुण सीता के,कुछ दुर्गा के

ऐसी तुम अब गुणवान बनो


कुछ यश लेना मां लक्ष्मी से 

कुछ विद्या सरस्वती मां से 

प्रेम पार्वती मां से लेकर

तुम स्वयं में ही संज्ञान बनो


विद्या, बुद्धि, साहस,स्नेह

सारा ये धन संजोना तुम

थको न बांटते धन अपना

अब ऐसी तुम धनवान बनो         


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts