खड़े हैं साहिल पर's image
Poetry1 min read

खड़े हैं साहिल पर

Vidya BamniyaVidya Bamniya October 9, 2021
Share0 Bookmarks 18 Reads0 Likes

खड़े हैं साहिल पर ,

लेकिन

अब तेरा इन्तज़ार नहीं करते


जाती है दूर तलक नज़र

लेकिन

अब तेरा दीदार नहीं करते


खामोश हैं इस कदर अब

तेरा ज़िक्र है भी, तो इज़हार नहीं करते..!!!


#Vidyaश्री

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts