दोस्त's image
Share0 Bookmarks 17 Reads1 Likes

इस आत्ममुग्धता के दौर में

या तो आप सच्चे हो सकते हैं या फ़िर दोस्त,

अब मैं किसी का दोस्त न हो सका,

सो सच्चा हो गया।


- विक्की आनंद 'कैप्टेन'

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts