इंतज़ार's image
Share0 Bookmarks 31 Reads0 Likes

कैसे बताऊँ मैं अपना हाल-ए-दिल,

तेरे बिना अब मेरा जीना हुआ मुश्किल!

तुम्हे देखने के बाद अब हुआ हाल ऐसे,

देख ली अमावस की रात में चाँद जैसे!

अब न देखूँ तुम्हे तो लगता मुझे ऐसे,

आसमां की सितारों बिन महफ़िल जैसे!!

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts